Monday, June 27, 2022
Homeमनोरंजनसपना चौधरी को किया 'डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी' की उपाधि से सम्मानित, सपना...

सपना चौधरी को किया ‘डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी’ की उपाधि से सम्मानित, सपना द्वारा भेजे 50 स्टूडेंट्स को दी जाएगी फ्री शिक्षा

इंडिया न्यूज, Sapna Choudhary Update (Mumbai) : हरियाणा की देसी क्वीन कही जाने वाली सिंगर, डांसर और एक्ट्रेस सपना चौधरी को डॉक्टर की उपाधि दी गई है। मंगलवार को निम्स यूनिवर्सिटी की ओर से ‘फिलॉसफी’ में डॉक्टर की माननीय उपाधि दी गई। यूनिवर्सिटी के ‘फेलिसिटेशन एंड कल्चरल इवेंट’ में सपना चौधरी बतौर चीफ गेस्ट पहुंची थीं। यूनिवर्सिटी के चेयरमैन और चांसलर डॉ. बलवीर सिंह तोमर ने घोषणा की कि सपना द्वारा भेजे गए सभी मरीजों का फ्री में इलाज किया जायेगा। ओर साथ ही, 50 स्टूडेंट्स को फ्री में शिक्षा दी जाएगी।

सपना को किया ‘डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी’ की उपाधि से सम्मानित

डॉ. बीएस तोमर ने सपना चौधरी के बारे में बात करते हुए कहा- वैसे तो में फिल्में और गाने में ज्यादा नहीं देखता, लेकिन सपना चौधरी के सिंगिंग और डांसिंग के चर्चे सुने हैं। जिंदगी में परेशानियों के बावजूद उन्होंने अपनी मेहनत से यह मुकाम हासिल किया। इसी को देखते हुए एकेडेमिक काउंसलिंग और बोर्ड ऑफ मैनेजमेंट ने मुझसे बात करके यह डिसाइड किया कि ऐसी महान कलाकार को हम ‘डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी’ की माननीय उपाधि से सम्मानित करेंगे । सपना चौधरी ही नहीं बल्कि निम्स यूनिवर्सिटी भी इसमें प्राउड फील कर रही है।

लड़कियों एजूकेशन को लेकर भी काफी जानकारी ली। सपना ने इस मौके पर सभी स्टूडेंट्स को जमकर महनत करने का संदेस भी दिया।

सपना द्वारा भेजे गए 50 स्टूडेंट्स को फ्री में शिक्षा

डॉ. बीएस तोमर ने आगे बात करते हुए कहा- यूनिवर्सिटी सपना द्वारा भेजे गए मरीजों का फ्री में इलाज करेगी। ओर साथ ही यह भी कहा कि उनके द्वारा भेजे गए 50 स्टूडेंट्स को फ्री में शिक्षा दी जाएगी। मेडिकल, डेंटल सहित यूनिवर्सिटी में पढ़ाए जाने वाले करीब 400 कोर्स में से किसी में भी दाखिला दिया जाएगा। यह सपना पर निर्भर करेगा कि वह जिस कोर्स में दाखिला दिलाना चाहेंगी, उस कोर्स में मिल जायेगा।

यह भी पढ़ें: चंडीगढ़ में फिर से बढ़ने लगी कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या, एक दिन में 4 की मौत

घर की जिम्मेदारी ने बनाया सपना को डांसर

हरियाणा के नजफगढ़ में जन्म लेने वाली सपना चौधरी ने पिता की मौत के बाद अपने घर का खर्च चलाने के लिए डांस करना शुरू किया था। डांस की वजह से सपना की पढ़ाई बीच में रुक गई। उन्होंने सिर्फ 8वीं क्लास तक ही पढ़ाई की। आज सपना चौधरी अपने नाम के आगे गर्व से डॉक्टर लगा सकती हैं। डॉ. बीएस तोमर इससे पहले राजपाल यादव को प्रोफेसर की उपाधि से नवाज चुके हैं।

यह भी पढ़ें: Raksha Bandhan-Laal Singh Chaddha Clash: आमिर की फिल्म संग टक्कर पर खुलकर बोले अक्षय, बोले- ‘क्लैश नहीं, 2 बड़ी फिल्में’

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular